Share it

एम4पीन्यूज|जम्मू-कश्मीर

कश्मीर के बड़गाम जिले में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मंगलवार को हुई मुठभेड़ में दो नागरिक और एक आतंकी की मौत हो गई, जबकि सेना का एक जवान घायल हो गया। मुठभेड़ के दौरान पथराव करने वाले प्रदर्शनकारियों के खिलाफ सुरक्षा बलों की कार्रवाई में दो व्यक्ति की मौत हो गई और 17 अन्य लोग घायल हो गए। इस बीच सेना ने एक आतंकी को भी मार गिराया है और वहां से एक हथियार भी बरामद किया है। सुरक्षाबलों और सेना के बीच हुई मुठभेड़ में एक जवान भी घायल हो गया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि मारे गए एक युवक की पहचान जाहिद राशिद गनई के रूप में की गई है। गोली लगने के बाद इलाज के लिए युवक को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।

गौरतलब है कि बड़गाम जिले के दरबग गांव में आतंकवादियों के छिपे होने की खबर के बाद सुरक्षाबलों ने गावं को चारों ओर से घेर लिया। इसके बाद दोनों ओर से गोलीबारी शुरू हो गई। पुलिस ने बताया है कि शुरुआती रिपोर्टों में एक या दो आतंकवादियों के छिपे होने की खबर है।

दोहरी चुनौती का सामना कर रहे हैं सुरक्षाबल
सुरक्षाबलों को इस मुठभेड़ में दो तरफ से चुनौती मिल रही है। एक तरफ आतंकवादी हैं तो दूसरी तरफ आतंकियों से सहानुभूति रखने वाले स्थानीय पत्थरबाजनों ने मोर्चा संभाला हुआ है। बताया जा रहा है कि ये लोग मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों की कार्रवाई में बाधा डालने की कोशिश कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए सुरक्षा बलों ने पैलेट गन और आंसू गैस के गोले छोड़े, जिसकी वजह से 17 प्रदर्शनकारी घायल हो गए। वहीं, दो प्रदर्शनकारी की गोली लगी और अस्पताल ले जाते वक्त उनकी रास्ते में ही मौत हो गई। वहीं, अन्य घायलों को अस्पताल में भर्ती करया गया है।प्रदर्शन कर रहे युवकों ने दरबग गांव से तीन किलोमीटर दूर नागम गांव में भी अर्धसैनिक बल सीआरपीएफ के जवानों पर पथराव किया। घटनास्थल के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों को रवाना किया गया है।

मुख्यमंत्री महबूबा ने की शांति की अपील
राज्य में लगातार जारी हिंसक घटनाओं के बीच जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने लोगों से शांति की अपील की है। उन्होंने अपने बयान में कहा है कि किसी भी मुद्दे का हल हिंसा के जरिए नहीं निकाला जा लकता है। शांति और वार्ता के जिए ही कश्मीर मुद्दे का हल संभव है।

दो दिन पहले भी मारे गए थे 2 आतंकी
जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा जिले में रविवार को हुई एक मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिद्दीन के दो आतंकवादी मारे गए थे। मारे गए आतंकवादियों से पुलिस ने एक एसएलआर और एक एके-47 भी बरामद किया था। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पुलवामा के पडगामपोरा इलाके में सुरक्षाबलों द्वारा बनाए गए नाके पर आतंकवादियों के वाहन को रोकने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने समर्पण करने के बजाए सुरक्षाकर्मियों पर गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद वहां एक संक्षिप्त मुठभेड़ हुई, जिसमें दोनों आतंकवादी मारे गए।


Share it

By news

Truth says it all

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *