Share it

एम4पीन्यूज।पंचकूला  

आए दिन सड़कों पर लगने वाले जाम में अक्सर लोगों झेलना पड़ता है, लेकिन 1 मई से वीआईपी कल्चर बंद होने के बाद जाम की परेशानियां नेताओं को भी झेलनी पड़ रही है। इसी समस्या से सोमवार को ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर गडकरी को रूबरू होना पड़ा। ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर नीतिन गडकरी पंचकूला-शिमला हाईवे से नालागढ़-बद‌्दी हाईवे के लिए बनने वाले सुखोमाजारी बाईपास का नींव पत्थर रखने के लिए आए थे। गडकरी पिंजौर स्थित एयरोड्रम तक जेट प्लेन में आए और यहां से आगे बाय रोड सूरजपुर तक गए। लेकिन रास्ते में ही उनकी गाड़ी जाम में फंस गई। जहां पब्लिक रोज जाम में फंसती है, वहां ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर की गाड़ी पर भी ब्रेक लग गए। मल्लाह मोड़ और एचएमटी लाइट पॉइंट के पास केंद्रीय मंत्री का काफिला फंस गया। 17 से 20 मिनट तक गडकरी जाम में फंसे रहे। उनके साथ सीएम खट्‌टर भी मौजूद थे।

एयरोड्रम से सूरजपुर के सफर में गडकरी का काफिला तीन बार जाम में फंसा। वजह बना बीजेपी युवा मोर्चा के जिला प्रधान योगेंद्र शर्मा की बाइकों का काफिला। गडकरी का काफिला जब सूरजपुर जा रहा था तो योगेंद्र शर्मा दर्जनों की संख्या में बाइक सवारों के साथ आगे-आगे जा रहे थे। बाइकों का काफिला धीरे-धीरे चल रहा था, इसलिए एक पुलिसकर्मी ने योगेंद्र को रोका। इस पर भाजपा नेता ने पुलिसवाले के साथ बहस की और उसकी वर्दी पर हाथ मारे। इसके बाद वीवीआईपी का रास्ता रुक गया। यह देखकर डीसीपी की गाड़ी से उनका गनमैन सुशील और अन्य कई कमांडो भाजपा नेता को समझाने आए। लेकिन योगेंद्र ने गनमैन सुशील को थप्पड़ मारा और उसका गला पकड़ लिया। इस वजह से रोड पर जाम लग गया। योगेंद्र के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 149, 332, 353, 283, 341, 186 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

भाजपा जिला प्रधान सहित 3 की कटी जेब :
केंद्रीय मंत्री और सीएम के साथ कई मंत्री और वीवीआईपीज के आने के चलते यहां एक वीवीआईपी घेरा बनाया गया था। इसी घेरे में जब गडकरी शिलान्यास का अनावरण कर रहे थे, तो बीजेपी के पंचकूला जिला प्रधान दीपक शर्मा की जेब काट ली गई। इसके अलावा दो अन्य लोगों की भी जेब काट ली गई।


Share it

By news

Truth says it all

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *