Share it

-साइलेंस जोन में आए दिन बज रहा है डीजे, चंडीगढ़ प्रशासन बेसुध

एम4पीन्यूज|चंडीगढ़

सुखना झील का साइलेंस जोन अब डांस जोन बनता जा रहा है। कहने को तो झील का 100 मीटर दायरा साइलेंस जोन है लेकिन गाहे-बगाहे यहां म्युजिक बीट्स पर डांस पार्टी होना आम बात हो गई है। रविवार यानी 12 मार्च 2017 को तो हद ही हो गई। एक तरफ जहां लेक क्लब में शादी समारोह के दौरान हाई वॉल्यूम म्युजिक बजा तो दूसरी तरफ सुखना झील पर साउड सिस्टम लगाकर एक प्राइवेट समारोह का आयोजन किया गया।
साइलेंस जोन होने के कारण कायदे से झील के 100 मीटर दायरे में इस तरह के आयोजन पूरी तरह नियमों के खिलाफ हैं लेकिन प्रशासनिक अधिकारी की लापरवाही के चलते सरेआम नियमों को ताक पर रखा जा रहा है।

IMG-20170312-WA0008

पंजाब व हरियाणा का गवर्नर हाउस भी निकट
हैरत की बात यह है कि जहां पर यहां म्युजिक बीट्स बजती हैं, उससे कुछ कदमों की दूरी पर ही पंजाब व हरियाणा के गवर्नर का आवास स्थित है। पंजाब के राज्यपाल वी.पी.बदनौर चंडीगढ़ में प्रशासक की कुर्सी भी संभालते हैं। बावजूद इसके उनके आवास से कुछ कदमों की दूरी पर सरेआम प्रशासन के नियम-कायदे को ताक पर रखा जा रहा है।

IMG-20170312-WA0009

2005 में जारी की थी प्रशासन ने साइलेंस जोन की नोटिफिकेशन
चंडीगढ़ प्रशासन ने 2005 में न्यूज पॉल्यूशन रूल्स, 2000 में संशोधन करते हुए सुखना झील के 100 मीटर दायरे को साइलेंस जोन की श्रेणी में डाल दिया था। इस जोन में ध्वनि प्रदूषण पूरी तरह वर्जित है। नियमों के मुताबिक इस जोन में किसी भी व्यक्ति विशेष को म्युजिक प्ले करने या शोर मचाने का अधिकार नहीं है। इसका उल्लंघन करने वाले के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का भी प्रावधान है। बावजूद इसके चंडीगढ़ प्रशासन के अधिकारी मदहोशी में डूबे हुए हैं।


Share it

By news

Truth says it all

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *