Share it

एम4पीन्यूज|चंडीगढ़

सेल्फी के शौकीन पर्यटकों के लिए बुरी खबर है। कालका से शिमला जाने वाली टॉय ट्रेन में सेल्फी लेने से आपको 6 माह कैद हो सकती है।

गौरतलब है कि टॉय ट्रेन से जाते समय लोग सेल्फी खींचने के चक्कर में ट्रेन के गेट पर लटक जाते हैं। रेलवे ने सेल्फी के चलते हो रही घटनाओं पर रोक लगाने के लिए अब इस तरह से सेल्फी खींचने वाले यात्रियों को 6 महीने की सजा और 2000 हजार रुपए फाइन करने का फैसला लिया है।

toy train
toy train

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक, जब भी ऐसे हादसे होते हैं तो जवाबदेह रेलवे को ठहराया जाता है। रेलवे ने यात्रियों द्वारा गेट पर खड़े होकर सेल्फी पर लगाम लगाने के लिए यह फैसला लिया है। रेलवे यह फैसला सबसे पहले कालका-शिमला रेलमार्ग पर चलने वाली टॉय ट्रेन पर लागू करेगा।

इसके लिए रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स की यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। आरपीएफ कर्मचारी लोगों को जागरूक भी करेंगे। अभी क्या हो रहा है कि कोई ओवरब्रिज या कोई और सुंदर जगह आने पर पैसेंजर ट्रेन के गेट पर खड़े होकर सेल्फी खींचने लगते हैं, जिससे कई बार नियंत्रण बिगड़ने पर हादसा हो जाता है।

toy train
toy train

रेलवे अब इसे अपराध की कैटेगरी में शामिल करने जा रहा है। कई बार सेल्फी के माध्यम से महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की शिकायतें भी मिली हैं। उत्तर रेलवे चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर नीरज शर्मा ने बताया कि रेलवे ने इस संबंध में प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। जल्द ही सभी डिवीजन को इस संबंध में नोटिफिकेशन भी भेज दी जाएगी।


Share it

By news

Truth says it all

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *