‘जयललिता का शव निकाला जा सकता है?’- हाई कोर्ट


एम4पीन्यूज।दिल्ली 

तमिलनाडु की दिवंगत मुख्‍यमंत्री जे जयललिता की मौत पर सवाल उठने लगे हैं। आज मामले को लेकर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए मद्रास हाईकोर्ट के जज वैद्यलिंगम ने कहा कि मुझे व्यक्तिगत रुप से शक है। हाई कोर्ट के जज ने जयललिता की मौत पर संदेह जताते हुए कहा कि मीडिया ने जयललिता की मौत पर कई आशंकाएं जताई हैं, मुझे भी इस मामले में कई आशंकाएं हैं। जब उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया तो कहा गया कि वह प्रॉपर डाइट पर हैं। अब उनकी मौत के बाद कम से कम सच सामने आना चाहिए।

मद्रास हाई कोर्ट के न्यायाधीश जस्टिस एस वैद्यनाथन जयललिता की मौत पर दायर जनहित याचिका की सुनवाई कर रही दो सदस्यीय बेंच के प्रमुख हैं। अन्ना द्रमुक कार्यकर्ता पीए जोसेफ की याचिका पर जस्टिस वी पार्थीबान के साथ सुनवाई करते हुए जस्टिस वैद्यनाथन ने कहा, अपनी नेता की मौत को लेकर सभी को सवाल पूछने का अधिकार है। उनकी मौत पर मुझे भी कुछ संदेह है। एक दिन कहा जाता है कि वह टहल रही थीं, अगले दिन कहा जाता है कि वह अचानक गुजर गईं। कुछ संदेह पैदा करता है।

पूर्व मुख्यमंत्री एमजी रामचंद्रन के स्वास्थ्य के बारे में वीडियो जारी किया गया था लेकिन जयललिता को लेकर ऐसा कुछ नहीं हुआ। मौत को लेकर तस्वीर किए जाने पर वरिष्ठ अधिवक्ता केएम विजयन ने अपने तर्क रखे। जबकि उनका विरोध करते हुए राज्य के महाधिवक्ता मुथु कुमारस्वामी ने कहा कि जयललिता की मौत को लेकर कोई रहस्य नहीं है। इसलिए याचिका पर सुनवाई करने की जरूरत नहीं है।

अब मामले की अगली सुनवाई 9 जनवरी को होगी। याचिका में सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता वाला आयोग गठित करके जयललिता के मौत के कारणों की जांच की मांग की गई है।

Previous ऐसी नौकरियां जिनके बारे में सोच भी नहीं सकते हैं आप
Next When A Male Gynecologist suffered Male-Female Differences by fellow Doctors in Chandigarh City

No Comment

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *