Share it

एम4पीन्यूज़, चंडीगढ़।

पंजाब विधानसभा सत्र के आखरी दिन स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिद्धू और अकाली दल के विधायक एवं पूर्व मंत्री बिक्रम मजीठिया के बीच नशे के मुद्दे को लेकर तीखी नोकझोंक हो गई। अकाली दल के विधायक एनके शर्मा ने जब किसानों की जमीन कुर्की और आत्महत्या का मामला उठाया तो उनके पक्ष में बिक्रम मजीठिया भी कूद गए, जिस पर सिद्धू भड़क गए और उन्होंने मजीठिया को बनारसी ठग तक कह डाला।

इस पर सरकार पर की गई टिप्पणी का जवाब देते हुए नवजोत सिद्धू ने कहा कि शर्मा जिस दिन किसान की हुई आत्महत्या की बात कर रहे हैं उस दिन अकाली दल की सरकार थी। न्होंने कहा कि 6 महीने में तो कुंभकर्ण भी उठ जाता है सरकार आपकी सोई रही। नवजोत सिद्धू ने कहा कि अकाली सरकार ने अपने दस साल के कार्यकाल दौरान कुछ नहीं किया। आप लोग सिर्फ चिट्टा बेचते रहे । अब उनकी सरकार आई है जो अपना काम ईमानदारी से करेगी।

इतना ही नहीं इस दौरान नवजोत सिद्धू ने मजीठिया को बनारसी ठग तक कह दिया। इस पर बिक्रम भी कुछ बोले तो सिद्धू ने कहा कि हम चिट्टा नहीं बेचते।उनके इतना कहते ही दोनों में तू तू मैं मैं होने लगी। स्पीकर के बार-बार कहने के बावजूद कि चेयर को सं‍बोधित किया जाए ,पर दोनों ने उनकी नहीं सुनी।


Share it

By news

Truth says it all

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *