Share it

एम4पीन्यूज। 

भोजपुरी फिल्‍मों के ‘अमिताभ बच्‍चन’ कहे जाने वाले एक्‍टर रवि किशन रविवार को बीजेपी में शामिल हो गए. बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में उन्‍होंने बीजेपी की सदस्‍यता ली. इस दौरान दिल्‍ली बीजेपी के अध्‍यक्ष मनोज तिवारी भी मौजूद थे. मनोज तिवारी की उपस्थिति इसलिए भी अहम रही क्‍योंकि मनोज भी भोजपुरी फिल्‍मों के स्‍टार होने के साथ गायक भी रहे हैं. आज सुबह करीब 10 बजे उन्‍होंने बीजेपी की सदस्‍यता ली. उसके बाद मनोज तिवारी ने ट्विटर के जरिये इस सूचना लोगों को दी.

खास बात यह है कि 43 वर्षीय रवि किशन पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर अपने गृह जिले यूपी के जौनपुर से चुनाव लड़ चुके हैं. हालांकि वह चुनाव हार गए और उनको महज 42,759 वोट यानी कुल मतों का 4.25 प्रतिशत हिस्‍सा ही मिला. उस वक्‍त रवि किशन ने कहा था कि वह राजनीतिक पारी शुरू करने के बावजूद फिल्‍मों में काम करना जारी रखेंगे. उस दौरान उन्‍होंने ये भी कहा था कि कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी से प्रेरित होकर वह राजनीति में उतर रहे हैं.

ये है वजह :
रवि किशन के भाजपा ज्वाइन करने के पीछे दिल्ली में बड़ी संख्या में पूर्वांचली मतदाताओं को बताया जा रहा है। राजनीति के जानकारों के मुताबिक, दिल्ली की लगभग 40 फीसद आबादी पूर्वांचलियों की हैं और इसमें से बड़ी संख्या अनधिकृत कॉलोनियों और झुग्गी बस्तियों में रहती है। जहां आम आदमी पार्टी का अच्छा जनाधार है। ऐसे में मनोज तिवारी के साथ रवि किशन के भी साथ आने से जहां AAP कमजोर होगी वहीं कांग्रेस के उभार पर भी रोक लग सकेगी।

गौरतलब है कि दिल्ली बीजेपी में बड़े बदलाव के तहत बीते साल ही पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने सतीश उपाध्याय की जगह उत्तर-पूर्वी दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी को प्रदेश अध्यक्ष बनाया था। इसके बाद से एक नई टीम बनाई गई है। 43 वर्षीय मनोज तिवारी को दिल्ली बीजेपी की जिम्मेदारी देने के पीछे माना गया था कि पार्टी की नजर यहां रहने वाले पूर्वांचली वोटों पर है। अब भोजपुरी एक्टर रवि किशन ने बीजेपी ज्वॉइन कर ली है।


Share it

By news

Truth says it all

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *